Monday, April 22, 2013

कविता जन्म लेगी




आज मन उदास है
शायद कोई कविता जन्म लेगी
टूट गई हर आस है
शायद कोई
कविता जन्म लेगी।
न कोई गिला, न कोई शिकायत
फिर भी दबा-दबा सा अहसास है
शायद कोई कविता जन्म लेगी...
रोये भी नहीं हैं इस कदर कि
चेहरे पर छाई वीरानी हो
हंसे भी नहीं है इस कदर
कि जज्Þबातों को हैरानी हो
फिर क्यों ऐसे ख्यालात हैं
शायद कोई कविता जन्म लेगी...


No comments: