Thursday, July 10, 2008

आगरा में शोपिंग ना बाबा ना


ये हिंदुस्तान है मेरी जान। यहा ताज की कशिश है तो तपता रेगिस्तान। यंहा समुद्र की मौज है तो वादियों की बहार भी।