Wednesday, September 24, 2008

ख़त्म होता मुगलिया शहर ... पूरी ख़बर के लिए यहाँ क्लिक करें



ताज नगरी में आकर टूरिस्ट आख़िर क्या देखना चाहता है। विदेशी डांस। विदेशी सड़कें। विदेशी बिल्डिंग। अगर यही सब देखना है तो वह आगरा क्यों आएगा। ज़रा सोचिये....

रिक्शे पर रोशन ... पूरी ख़बर के लिए यहाँ क्लिक करें

Saturday, September 20, 2008

दिल्ली-६ इन आगरा ....पुरी ख़बर के लिए यहाँ क्लिक करें


ताज हैरान था, शायद उस पर भरी पड़ रहा था अभिषेक का जादू। ताज शांत था, शायद जल रहा था सोनम की सुन्दरता से। ताज उदास था, शायद सामना नहीं कर पा रहा था वहीदा की सादगी का। ताज नाराज था, शायद झेल नहीं पा रहा था ऋषि का अल्हड़पन।

Monday, September 15, 2008

गंदा है पर.... अधिक जानकारी के यहाँ क्लिक करें


नारी निकेतन का कड़वा सच। जहाँ लड़कियों को सुधारने कि बजाय फ़िर से उसे कोठे की शोभा बनाया जा रहा है। कोठे से कोठे तक पहुचने के खेल का खुलासा।
.......अधिक जानकारी के यहाँ क्लिक करें

Sunday, September 7, 2008

क्रोसिंग कनेक्शन ...यहाँ क्लिक करें

कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी, सदियों रहा है दुश्मन दौरे जहाँ हमारा... जी हाँ, यही हकीकत है शहर के एक चौराहे कि, जिसने छः दशकों से ज्यादा का सफर तय किया है।

Monday, September 1, 2008

शानदार शुरुआत

ताज... हमारा ताज। निराला ताज। शाहजहाँ का सपना. मुमताज का अरमान। दुनिया के सबसे बड़े ताज महल के माडल से पर्दा उठ चुका है। वैसी ही नक्काशी, वैसी ही पच्चीकारी का नायब नमूना। ताज के शहर के एक और ताज तराशा जा चुका है। उसी शिद्दत और उसी लगन के साथ। उसी शो के कुछ बेशकीमती फोटो। आगरा के टूरिस्म में नई शुरुआत, अदाकारी और शिल्पकारी का संगम। आगरा में कलाकृति एम्पोरियम में ताज के दस मूड का नजारा। सूरज की लालिमा में लिपटा ताज।